Tuesday, November 16, 2010

'भावों के परिणाम..'


...


"जीवन को उपलब्धि समझ..
करते हैं जो विवेक का उपयोग..
भावों के परिणाम रहते हैं जिनके भीतर..
बाँधते सदैव दुर्गति का ही बोध..!!"


...

6 ...Kindly express ur views here/विचार प्रकट करिए..:

संजय भास्कर said...

एहसास की यह अभिव्यक्ति बहुत खूब

mconstruction2001 said...

Aati Sunder Rachana...Sunder suvichar
Dhananajay Mishra

Bhavesh said...

excellent picture nicely written ... good going

Priyankaabhilaashi said...

धन्यवाद संजय भास्कर जी..!!

Priyankaabhilaashi said...

धन्यवाद धननजय मिश्रा जी..!!

Priyankaabhilaashi said...

धन्यवाद भावेश शाह जी..!!