Saturday, July 9, 2011

'रहम..'

...


"डूबती कश्ती..
सुलगती रूह..

या खुदा..रहम..!!!"


...

9 ...Kindly express ur views here/विचार प्रकट करिए..:

संजय भास्कर said...

.... जबर्दस्त!!

संजय भास्कर said...

 अस्वस्थता के कारण करीब 20 दिनों से ब्लॉगजगत से दूर था
आप तक बहुत दिनों के बाद आ सका हूँ,

sushma 'आहुति' said...

bhut khub....

Dr.Nidhi Tandon said...

खुदा रहम ज़रूर करेगा...प्रियंका

Priyankaabhilaashi said...

धन्यवाद संजय भास्कर जी..!!

Priyankaabhilaashi said...

धन्यवाद सुषमा 'आहुति' जी..!!!

Priyankaabhilaashi said...

धन्यवाद दी..!!! उम्मीद ज़िंदा रखूँगी..!!!

Rakesh Kumar said...

लगता है अन्त:करण की मार्मिक पुकार है.
सीधे दिल को छू रही है.
जबरदस्त अभिव्यक्ति.केवल सात शब्दों में
बहुत अच्छा प्रयोग.

Priyankaabhilaashi said...

धन्यवाद राकेश कुमार जी..!!!