Friday, March 25, 2011

'कहानी हमारी..'




...


"बेरुखी में डूबी ज़िन्दगी हमारी..
अपनों ने लुटाई कहानी हमारी..
ना करना ज़ाहिर..राज़ पुराने..
मचलेगी फिर से जवानी हमारी..!!"


...

7 ...Kindly express ur views here/विचार प्रकट करिए..:

यशवन्त माथुर said...

क्या बात है ....

Priyankaabhilaashi said...

धन्यवाद यशवंत माथुर जी..!!

डॉ॰ मोनिका शर्मा said...

Bahut Sunder ....

Priyankaabhilaashi said...

धन्यवाद डॉक्टर शर्मा जी..!!

आशा said...

गहरा सोच लिए क्षणिका
आशा

Priyankaabhilaashi said...

धन्यवाद आशा जी..!!

Patali-The-Village said...

बहुत खूबसूरत रचना| धन्यवाद|