Friday, August 5, 2011

'इश्तिहार..'




...


"क्या खूब अंदाज़-ए-बयान हुआ..
मैं हर ओर नीलाम हुआ..
गुज़रा जब माज़ी की गली..
रूह, जज़्बात, इश्तिहार आम हुआ..!!"


...

11 ...Kindly express ur views here/विचार प्रकट करिए..:

संजय भास्कर said...

वाह बेहतरीन !!!!

संजय भास्कर said...

SUBAH SUBAH BADHIYA LINE PADHNE KO MILI

Priyankaabhilaashi said...

धन्यवाद संजय भास्कर जी..!!

sushma 'आहुति' said...

बहुत ही खुबसूरत....

सागर said...

very nice....

SAJAN.AAWARA said...

Behtreen, acha laga apko padhkar....
Jai hind jai bharat

यशवन्त माथुर (Yashwant Mathur) said...

वाह!
----
कल 09/08/2011 को आपकी एक पोस्ट नयी पुरानी हलचल पर लिंक की जा रही हैं.आपके सुझावों का स्वागत है .
धन्यवाद!

Priyankaabhilaashi said...

धन्यवाद सुषमा 'आहुति' जी..!!

Priyankaabhilaashi said...

धन्यवाद सागर जी..!!

Priyankaabhilaashi said...

धन्यवाद साजन अवारा जी..!!

Priyankaabhilaashi said...

धन्यवाद यशवंत माथुर जी..!!