Thursday, June 16, 2011

'खुशियों की छतरी..'




...


"दीवानगी-ए-सनम..जग जाहिर..
संगदिल वफ़ा..यार माहिर..

महंगी है..खुशियों की छतरी..!!!"


...

4 ...Kindly express ur views here/विचार प्रकट करिए..:

M VERMA said...

यकीनन बहुत मँहगी है खुशियों की छतरी

Priyankaabhilaashi said...

धन्यवाद वर्मा जी..!!

sushma 'आहुति' said...

bilkul sahi kaha apne...

Priyankaabhilaashi said...

धन्यवाद सुषमा 'आहुति' जी..!!