Sunday, November 4, 2012

'बही-खाते ..'






...


"जीते रहेंगे आप सदा..
गुज़ारिश है ऊपर वाले से..
मरना-वरना खेल हमारा..
तुमको क्या बही-खाते से..!!"

...

4 ...Kindly express ur views here/विचार प्रकट करिए..:

यशवन्त माथुर (Yashwant Mathur) said...

क्या बात कही आपने....वाह!

Priyankaabhilaashi said...

धन्यवाद यशवंत माथुर जी..!!!

expression said...

वाह...
बढ़िया.....

अनु

Priyankaabhilaashi said...

धन्यवाद अनु जी..!!