Tuesday, October 4, 2011

'साहस के सितारे..'


...


"पथरा गयीं आँखें..
उत्साह ना हुआ कम..
बटोर लो..
साहस के सितारे..
प्रयोजन रहे दमखम..!!!"

...

12 ...Kindly express ur views here/विचार प्रकट करिए..:

Unknown said...

उत्साह यूँ ही कायम रखो....ज़िंदगी की राह में काम आएगा

रश्मि प्रभा... said...

hamesha yahi soch rahe ... dashahra kee shubhkamnayen

M VERMA said...

उत्साह के बिना तो कुछ भी नही है

sushma verma said...

बहुत खूब....

Maheshwari kaneri said...

उत्साह के बिना तो कुछ भी नही है......

SAJAN.AAWARA said...

himmat or utsaah yahi to hathiyaar hai aaj hamare paas
jai hind jai bharat

Unknown said...

धन्यवाद दी..!!

Unknown said...

धन्यवाद रश्मि प्रभा जी..!!

Unknown said...

धन्यवाद एम वर्मा जी..!!

Unknown said...

धन्यवाद सुषमा 'आहुति' जी..!!!

Unknown said...

धन्यवाद महेश्वरी कनेरी जी..!!

Unknown said...

धन्यवाद सजन अवारा जी..!!